Call For Admission - 9644139972

Advance Mobile Repairing Free guide Solution & Software

Monday, 19 June 2017

What is SMD Transistor - Hindi

What is Transistor - Hindi 


तीन सेमी-कंडक्टर को जोड़ कर बनाये जाने वाला 
डिवाइस ट्रांजिस्टर कहलाता है ट्रांजिस्टर सेमी-कंडक्टर 
पदार्त सिलिकॉन, जेर्मियम का बना होता है एक प्रकार 
से ट्रांजिस्टर एक डबल डायोड होता है एक N टाइप 
क्रिस्टल एक P टाइप के क्रिस्टल को जोड़ कर एक 
P-N जंक्शन का निर्माण करते है डायोड इसी P-N 
जंक्शन का उदारण है क्युकी ट्रांजिस्टर में दो P-N 
जंक्शन होता है इसलिए यह कहा जा सकता है की 
ट्रांजिस्टर एक प्रकार से डबल डायोड होता है  










         Transistor दो टाइप के होते है
  • 1. PNP transistor
  • 2. NPN transistor

PNP transistor


·    यह दो P टाइप और एक N टाइप के क्रिस्टल से
 मिलकर बना होता है N टाइप के दोनों ओर P टाइप 
के क्रिस्टल को जोड़ देते है क्रिस्टल के इस प्रकार जुड़ने
 पर दो जंक्शन निर्मित होते है एक P-N जंक्शन और 
एक N-P जंक्शन , आपस में मिला दिया जाता है तो
 खंडो में से 3 खंड (P,N.P )  रह जाते है इस प्रकार के 
निर्मित ट्रांजिस्टर को PNP ट्रांजिस्टर कहते है  
·            दोनों P टाइप खंडो में छोटा P एमीटर (emitter )
 एवं बड़ा P कलेक्टर (collector)  और N बेस (Base)
 कहलाता है

·                     इसमें करंट का फ्लो एमीटर से बेस के 
बीच में होता है 









              NPN transistor


·    यह दो N टाइप और एक P टाइप के क्रिस्टल से
 मिलकर बना होता है P टाइप के दोनों ओर N टाइप के
 क्रिस्टल को जोड़ देते है क्रिस्टल के इस प्रकार जुड़ने पर 
दो जंक्शन निर्मित होते है एक N-P जंक्शन और 
एक P-N जंक्शन , आपस में मिला दिया जाता है तो खंडो
 में से 3 खंड (N,P,N)  रह जाते है इस प्रकार के निर्मित
 ट्रांजिस्टर को NPN ट्रांजिस्टर कहते है
·                     इसमें करंट का फ्लो बेस से एमीटर के बीच 
में होता है









Transistor का मोबाइल PCB में यूज़  
·                     ट्रांजिस्टर  का मुक्य रूप से उपयोग सिग्नल 
की शक्ति को बढाने के लिए किया जाता है अर्ताथ 
amplification के लिए किया जाता है l
·                     Switching  - इलेक्ट्रॉनिक सर्किट में करंट को
 on/off करने वाला डिवाइस इलेक्ट्रॉनिक स्विच कहलाता है
 इलेक्ट्रॉनिक स्विच की on/off करने के गति 
मैकेनिकल स्विच से अधिक होती है  
·                   Voltage regulation – वोल्टेज रेगुलेटर का मतलब
 इनपुट वोल्टेज के लोड होने पर या बदलती हुई परिशिति 
के बाद भी एक सामान वोल्टेज देना 




Transistor में तीन टर्मिनल होते है  
·       Collector  - common collector configuration
·       Base – common base configuration ya ground
base circuit 
·       Emitter - common  emitter configuration


ट्रांजिस्टर में 3 इलेक्ट्रोड होते है ट्रांजिस्टर में दिया 
जाने वाला इनपुट इन्ही दो इलेक्ट्रोड के बीच में
 दिया जाता है और आउटपुट भी इनी दो इलेक्ट्रोड 
के बीच में लिया जाता है क्युकी 3 इलेक्ट्रोड होते है
 तो दिया जाने वाला इनपुट व लिया जाने वाला
आउटपुट तो मेन इलेक्ट्रोड कॉमन होगा  




Transistor Image 



Asia Telecom
Mobile Training Institute
9644139972
Jabalpur,Madhya Pradesh 
Admission Open - Join Now



Copyright by Asia Telecom ,Created By Asia Telecom. Powered by Blogger.